featured Politics Society Uncategorized

ये राजनीति नहीं आसां

वाकई भारतीय राजनीति और उसकी सीटें उस फेंटी गईं ताश की गड्डी की तरह हैं जिनमें फेंटने वाले को भी नहीं पता है कि बादशाह गुलाम बगल बगल हैं या 20 पत्ती दूर लेकिन एक बार भारतीय राजनीति की गड्डी ऐसी फेंटी गई कि जोकर के अलावा सारे बादशाह गुलाम इक्के नहले दहले एक ही खेमे में जा पहुंचे और इससे फेंटने वाले की योग्यता पर ही सवाल उठ गया कि क्या अभी वो उतना परिपक्व नहीं हुआ कि वो इतनी बडी गड्डी को फेंट सके लेकिन अब तो राजनीति की चौसर पर ये बिसात 5 साल बाद ही बिछनी है।

तो यहां आपकी सामान्य जानकारी के लिए बता दें यहां पर हम बात कर रहे हैं उस मैराथन रेस की जो 2014 से 2019 तक चलेगी और इसमें छोट छोटे ब्रेक प्वाइंट आएंगे जो ये बिल्कुल भी र्निधारित नहीं करेंगे कि 2019 में खत्म हो रही रेस कौन जीतेगा बल्कि ये बताएंगे कि 2019 में शुरू हो रही रेस कौन जीतेगा

और अब चूंकि ये रेस खत्म होने वाली है तो आइये बात करते है इस रेस की हाईलाइट्स की

4 साल 6 महीने की रेस की हाईलाइट्स देखने पर तो जोकर कोने में दुबका मास्टर की कलाबाजियां देखता है और मास्टर अपना खेल पूरे क्लासिकल अंदाज में खेलता है और कुछ अब्दुल्ला टाइप के लोग बेगानी शादी में दीवाने हुए नजर आते हैं

अब खेल अपने शबाब पर है मास्टर कहीं से जगजीत सिंह को “होश वालो को खबर क्या” गाते हुए सुनता है और बेहोशी का मजा लेने में मशगूल हो जाता है इसी दरम्यान खेल में कुछ इक्के गलत दांव पर चल दिए गए जिसका नतीजा ये हुआ कि जोकर वाला खेमा भी अगले खेल के लिए सीना 56 इंच करके “कहती है जोकर मुझको ये दुनिया” गाना गाते हुए तैयार हो गया है

लेकिन अब दो बातें हैं क्या जोकर सही खेल जाएगा या फिर रिंग में रिंग मास्टर की कलाबाजिंया देखेगा

सफर में आखरी पत्थर के बाद आएगा,

मज़ा तो यार दिसंबर के बाद आएगा

Advertisements

0 comments on “ये राजनीति नहीं आसां

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: